घमासान: टीएमसी के दो, सीपीएम के ‌1 विधायक, 50 पार्षद ने बीजेपी में

पश्चिम बंगाल में राजनीतिक घमासान, टीएमसी के दो और सीपीएम के ‌1 विधायक ने थामा बीजेपी का दामन, 50 पार्षद भी पार्टी में शामिल
मुकुल रॉय के बेटे सुभ्रांशु रॉय, तुषार कांति भट्टाचार्य और सीपीएम के देवेंद्र रॉय बीजेपी में शामिल, कैलाश बोले यह तो पहला चरण अभी छह चरण और शेष
पश्चिम बंगाल में राजनीतिक घमासान, टीएमसी के दो और सीपीएम के ‌1 विधायक ने थामा बीजेपी का दामन, 50 पार्षद भी पार्टी में शामिल कैलाश विजयवर्गीय ने बताया कि पश्चिम बंगाल के तीन विधायक और 50 से ज्यादा पार्षदों ने भाजपा जॉइन कर ली है.
लोकसभा चुनावों में एनडीए की धमाकेदार जीत और बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के खराब प्रदर्शन के बाद से ही पश्चिम बंगाल की राजनीति में उथल पुथल मच गई है. टीएमसी में ही अंदरूनी कलह की बातें सामने आने के बाद मंगलवार दोपहर टीएमसी के दो और सीपीएम के एक विधायक ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का दामन थाम लिया है. साथ ही 50 से ज्यादा पार्षदों ने भी बीजेपी ज्वाइन कर ली है. इस बात की आधिकारिक जानकारी बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने दी.टीएमसी के दो और सीपीएम का एक विधायक बीजेपी में के लिए इमेज परिणाम

अभी यह पहला चरण

कैलाश विजयवर्गीय ने बताया कि पश्चिम बंगाल के तीन विधायक और 50 से ज्यादा पार्षदों ने भाजपा ज्वाइन कर ली है. उन्होंने कहा कि जिस तरह से लोकसभा चुनाव सात चरणों में हुए वैसे ही अब बीजेपी में लोगों की ज्वाइनिंग भी सात चरणों में होगी. आज जो लोगों ने देखा यह इसका पहला चरण था.

भाजपा में स्वागत है !! #पश्चिम बंगालमें #बीजेपी की जीत का असर दिखाई देने लगा! #टीएमसी के दो और एक #सीपीएम विधायकों के अलावा राज्य के 50+ #टीएमसी पार्षद भी बीजेपी में शामिल हो गए! ये पार्षद 24-परगना जिले के कंचरापारा, हलिशहर और नैहाती नगर पालिका के हैं!टीएमसी के दो और सीपीएम का एक विधायक बीजेपी में के लिए इमेज परिणाम

मुकुल रॉय के बेटे भी अब बीजेपी में
किसी समय टीएमसी के दिग्गज नेता माने जाने वाले मुकुल रॉय जो कि अब बीजेपी के साथ हैं, उनके बेटे और विधायक सुभ्रांशु रॉय ने भी बीजेपी का दामन थाम लिया है. रॉय बीजपुर से विधायक हैं. वहीं विष्‍णुपुर से टीएमसी के विधायक तुषार कांति भट्टाचार्य और हेमताबाद से सीपीएम के विधायक देवेंद्र रॉय ने भी बीजेपी की सदस्यता ले ली है.

यहां पर भी भाजपा का कब्जा
विधायकों के शामिल होने के साथ ही काचरापार नगरपालिका के 17 पार्षदों ने भी बीजेपी का दामन थाम लिया है. इनमें चेयरमैन और वाइस चेयरमैन भी शामिल हैं. इस सदन में कुल 26 पार्षद हैं और इनमें से 17 सदस्य बीजेपी के होने के चलते अब यहां भी सत्ता में बीजेपी आ गई है. इसके साथ ही दो अन्य नगरपालिका में बीजेपी की सत्ता हो गई है.

पश्चिम बंगाल में हिंसा जारी: अब बीजेपी की ‘विजय रैली’ में फेंका गया बम, टीएमसी समर्थकों पर आरोप

पश्चिम बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या के बाद अब पार्टी के विजयी जुलूस में बम से हमला करने का मामला सामने आया है। हालांकि पुलिस ने दावा किया है कि इस हमले में कोई हताहत नहीं हुआ है। उधर, बीजेपी ने इसके लिए भी टीएमसी समर्थकों को जिम्मेदार ठहराया है। 

बीजेपी समर्थकों पर बम से हमला
पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनावों के दौरान चला हिंसा का दौर बदस्तूर जारी है। चुनावी नतीजे आने के बाद से दो बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या के बाद अब पार्टी की एक रैली में समर्थकों के ऊपर बम फेंकने का मामला सामने आया है। हालांकि पुलिस ने दावा किया है कि इस घटना में कोई हताहत नहीं है।
बता दें कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं की मौत से हड़कंप मच गया है। रविवार रात उत्तर 24 परगना जिले में एक बीजेपी कार्यकर्ता को अज्ञात लोगों ने गोली मार दी। इससे पहले चकदहा में एक कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। दोनों हत्याओं के बाद सूबे में तनाव काफी बढ़ गया था। अब इस नए मामले ने तनाव में और इजाफा कर दिया है।
जानकारी के मुताबिक सोमवार को बीजेपी समर्थकों की तरफ से बीरभूम में निकाली गई ‘विजय रैली’ के दौरान बम फेंका गया। बीजेपी ने सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पर इसका आरोप लगाया है। बता दें कि इससे पहले भी बीजेपी कार्यकर्ताओं के हत्या के दौरान भी पार्टी ने तृणमूल कांग्रेस को जिम्मेदार बताया था। हालांकि पुलिस का कहना था कि शुरुआती जांच में कोई राजनीतिक संबंध नहीं मिला है।

तीन दिन के भीतर दो हत्या से सूबे में हड़कंप
इससे पहले उत्तर 24 परगना जिले के भाटापारा में रविवार रात बीजेपी कार्यकर्ता चंदन शॉ की हत्या कर दी गई। पुलिस ने बताया कि बाइक सवार अज्ञात लोगों ने शॉ को गोली मारी और उन्हें निशाना बनाकर बम फेंके। शॉ की मौके पर ही मौत हो गई। उधर, चकदहा में भी बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई। तीन दिन के अंदर दो हत्याओं से सूबे में तनाव पहले से बढ़ा हुआ है। अब इस नए मामले से सूबे में बीजेपी और टीएमसी में एक बार फिर टकराव की स्थिति देखने को मिल रही है।

bjp worker found dead in west bengals nadia

BJP कार्यकर्ता का पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में मिला शव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *