वरिष्ठ पत्रकार कल्पेश याग्निक ने गुरुवार रात कार्यालय की छत से कूदकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मामला दर्ज कर आत्महत्या के कारणों की जांच शुरू कर दी है। उनके लैपटॉप, मोबाइल और आइपैड भी जांचे जा रहे हैं। पुलिस के मुताबिक, एक समाचार पत्र के समूह संपादक 55 वर्षीय याग्निक गुरुवार रात करीब सवा 10 बजे ऑफिस परिसर में गिरे मिले। गार्ड की सूचना पर कर्मचारी और परिजनों ने अस्पताल में भर्ती कराया, पर देर रात डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। शुक्रवार को डीआइजी हरिनारायणचारी मिश्र और एसपी अवधेश गोस्वामी सहित एफएसएल अधिकारी घटनास्थल पहुंचे। एफएसएल टीम छत (तीसरी मंजिल) पर पहुंची तो पैराफिट वॉल पर लगे एसी के कंप्रेशर पर जूते के निशान मिले। डीआइजी के मुताबिक, याग्निक एसी के कंप्रेशर पर पैर रखकर कूदे। पुलिस ने उनका जूता और एसी पर जमी मिट्टी की परत जब्त कर ली है। इसकी सागर फॉरेंसिक लैब से जांच कराई जा रही है। डीआइजी के मुताबिक, अभी आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चला है। परिजनों के बयान भी अभी शेष हैं।