एबीपी न्यूज-सी वोटर सर्वे में एनडीए रह गया बहुमत से आठ सीट पीछे,यूपीए 141,138 अन्य को

  • लोकसभा चुनाव-2019ABP न्यूज़-C Voter सर्वे: NDA बहुमत के करीब, लेकिन यूपी में सपा-बसपा के आगे BJP की राह मुश्किल
    ABP न्यूज़-सी वोटर सर्वे: 543 लोकसभा सीटों में एनडीए को 264 सीटों पर, यूपीए को 141 सीटों पर और अन्य दलों को 138 सीटें पर जीत मिल सकती है. कोई भी दल या गठबंधन बहुमत के जादुई आंकड़े 272 को छूने या पार करने की स्थिति में नहीं
    ABP न्यूज़-C Voter सर्वे: NDA बहुमत के करीब, लेकिन यूपी में सपा-बसपा के आगे BJP की राह मुश्किल
    ABP न्यूज़-सी वोटर सर्वे: चुनाव आयोग ने 17वीं लोकसभा के लिए चुनावों की तारीखों का एलान कर दिया है. लोकसभा चुनाव सात चरणों में 11 अप्रैल से 19 मई तक होंगे. गुरूवार 23 मई को देश नई सरकार चुनेगी. चुनाव से पहले सभी दल अपनी-अपनी जीत के दावे कर रहे हैं. ऐसे राजनीतिक माहौल में एबीपी न्यूज ने सी-वोटर के साथ मिलकर देश की सियासी नब्ज टटोलने की कोशिश की है. सर्वे के मुताबिक, पिछली बार पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने वाला बीजेपी नीत एनडीए इस बार बहुमत से थोड़ा पीछे रह जाएगा. जबकि कांग्रेस नीत यूपीए के पहले से बेहतर प्रदर्शन करने के अनुमान हैं, लेकिन सत्ता की दौड़ में वह भी काफी पीछे रह जाएगा. अन्य क्षेत्रीय दलों के खाते में काफी सीटें जा रही हैं और अगली सरकार बनाने में इन दलों की बड़ी भूमिका होगी.किसको कितनी सीटें?

    सर्वे के मुताबिक, 543 लोकसभा सीटों में से एनडीए को 264 सीटों पर जीत मिल सकती है. वहीं यूपीए 141 सीटों पर अपना परचम लहराएगा और अन्य दलों को 138 सीटें मिलने की उम्मीद है. यानि कोई भी दल या गठबंधन बहुमत के जादुई आंकड़े 272 को छूने या पार करने की स्थिति में नहीं हैं. याद रखने की बात है कि एनडीए जो 264 सीटें जीत सकता है, उसमें बीजेपी का हिस्सा 220 होगा. इसी तरह यूपीए की झोली में जो 138 सीटें जा सकती हैं उसमें कांग्रेस का हिस्सा 86 सीटों का होगा.

    किसको कितना वोट शेयर?

    वोट शेयर की बात करें तो 543 लोकसभा सीटों पर एनडीए को यूपीए से मात्र 10 फीसदी वोट ही ज्यादा मिल रहे हैं. सर्वे में एनडीए को 41 फीसदी, यूपीए को 31 फीसदी और अन्य को 28 फीसदी वोट मिल सकते हैं.

    सर्वे: यूपी में NDA पर भारी पड़ सकता है बुआ-बबुआ का महागठबंधन, जानें किसको मिलेंगी कितनी सीटें

    लोकसभा चुनाव में सबसे ज्यादा सीटों वाला राज्य उत्तर प्रदेश है और यहां से जो पार्टी ज्यादा सीटें जीतती है उसे केंद्र की सरकार में आने की संभावनाएं काफी बढ़ जाती हैं. यूपी में कुल 80 सीटें हैं और एबीपी न्यूज़-सी वोटर सर्वे के मुताबिक आज यहां चुनाव होते हैं तो यूपीए चार सीटों पर सिमट जाएगा वहीं 2014 में बड़ा कमाल करने वाला एनडीए को भारी नुकसान होगा और वह 29 सीटों पर रुक जाएगा. वहीं, अखिलेश-मायावती का महागठंबधन 47 सीटें जीत सकता है.

    ABP News का सर्वे: पूर्वोत्तर के राज्यों में एनडीए और यूपीए में बराबरी का मुकाबला

    सिर्फ यूपी ही नहीं उसका पड़ोसी राज्य बिहार भी राजनीतिक दलों के लिए काफी अहम है. सर्वे के मुताबिक अगर बिहार की 40 सीटों पर अभी चुनाव होते हैं तो एनडीए को 36 और आरजेडी को महज 4 सीटें मिलने का अनुमान है. वहीं अन्य अपना खाता भी नहीं खोलते दिख रहे हैं. यानी सर्वे में जो आंकड़े सामने आ रहे हैं वो ये साफ बता रहे हैं कि नीतीश कुमार के वापस आने से एनडीए को फायदा हो रहा है.

    सर्वे- पश्चिम बंगाल में बरकरार रह सकता है ममता बनर्जी का जलवा, बीजेपी को भी होगा फायदा

    पश्चिम बंगाल की बात करें तो यहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का जादू अभी भी बरकरार है. सर्वे के मुताबिक, राज्य में कुल 42 लोकसभा सीटों में से टीएमसी के खाते में 34, बीजेपी को 8 सीट मिल सकती है. राज्य में वामपंथी दलों की स्थिति बेहद खराब दिख रही है.

    कांग्रेस के राज्यों MP, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में NDA का बोलबाला, जानें किसको कितनी सीटें- सर्वे
    मध्य प्रदेश में किसकों कितनी सीटें?

    सर्वे के मुताबिक, मध्य प्रदेश में लोकसभा की कुल 29 सीटें हैं. यहां बीजेपी नीत एनडीए को 24 सीटें और यूपीए को 5 सीटें मिल सकती हैं. मध्य प्रदेश में साल 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने 27 सीटों और कांग्रेस ने सिर्फ दो सीटों पर कब्जा किया था.

    छत्तीसगढ़ में किसकों कितनी सीटें?

    सर्वे के मुताबिक, छत्तीसगढ़ में लोकसभा की कुल 11 सीटें हैं. यहां बीजेपी नीत एनडीए को 6 सीटें और कांग्रेस नीत यूपीए को 5 सीटें मिल सकती हैं. साल 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने 10 सीटों और कांग्रेस ने सिर्फ एक सीट पर कब्जा किया था.

    राजस्थान में किसकों कितनी सीटें?

    सर्वे के मुताबिक, राजस्थान में लोकसभा की कुल 25 सीटें हैं. यहां बीजेपी नीत एनडीए को 20 सीटें और यूपीए को 5 सीटें मिल सकती हैं. साल 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने सभी 25 सीटों पर कब्जा किया था.

    महाराष्ट्र

    एबीपी न्यूज-सी वोटर सर्वे के मुताबिक, महाराष्ट्र में बीजेपी 21, शिवसेना 14, कांग्रेस 7 और एनसीपी को 6 सीटें मिल सकती हैं. राज्य में कुल 48 लोकसभा सीट हैं.

    एबीपी न्यूज़ का सर्वे: गुजरात में बीजेपी को हो सकता है दो सीटों का नुकसान
    एबीपी न्यूज़ और सी वोटर सर्वे के मुताबिक गुजरात में बीजेपी का पलड़ा भारी है. सर्वे के मुताबिक एनडीए यहां 24 सीटें जीत सकत है. वहीं, गुजरात विधानसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करने वाली कांग्रेस को सर्वे के मुताबिक कोई फायदा नहीं मिलने वाला है. एबीपी न्यूज़ और सी वोटर के सर्वे में कांग्रेस को राज्य में केवल 2 सीटें मिलती दिख रही है.

    सर्वे: झारखंड में बीजेपी को लगेगा बड़ा झटका, फायदे में रहेगा यूपीए
    एबीपी न्यूज़-सी वोटर ने सर्वे के जरिए झारखंड की जनता की नब्ज टटोलने की कोशिश की है. इस सर्वे के मुताबिक अगर अभी चुनाव होते हैं तो एनडीए को 3 सीटें मिल सकती हैं. वहीं यूपीए को 10 और जेवीएम को एक सीट मिलती दिख रही है.

    ABP News का सर्वे: दक्षिण के राज्यों में एनडीए को लग सकता है तगड़ा झटका
    तमिलनाडु, केरल, आंध्र, तेलंगाना, कर्नाटक को मिलाकर दक्षिण भारत में कुल 129 लोकसभा सीटें हैं जिसमें से एनडीए के खाते में सिर्फ 21 सीटें, यूपीए को 63 जबकि अन्य के खाते में 45 सीटें जाती हुई दिख रही है.

    पूर्वोत्तर राज्य

    पूर्वोत्तर राज्यों असम, अरुणाचल, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, सिक्किम, त्रिपुरा में एनडीए के लिए अच्छी खबर है. सर्वे के मुताबिक, 25 लोकसभा सीटों वाले इन राज्यों में एनडीए को 13, यूपीए को 10 और अन्य को 2 सीटें मिलने की संभावना है.

    बाकी राज्यों का क्या है हाल?

    ओडिशा- सर्वे के मुताबिक, 21 लोकसभा सीटों वाले ओडिशा में एनडीए को 12 और बीजेडी को 9 सीटें मिलने का अनुमान है.

    गोवा- सर्वे के मुताबिक, 2 लोकसभा सीटों वाले गोवा में दोनों सीटें बीजेपी को मिलने का अनुमान है.

    उत्तर भारत- सर्वे के मुताबिक, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, हिमाचल, जम्मू कश्मीर और उत्तराखंड की 45 सीटों में से एनडीए को 26 और यूपीए को 19 सीटें मिलने का अनुमान है. यहां सिर्फ पंजाब की बात करें तो यहां यूपीए एनडीए पर भारी पड़ रहा है. 13 सीटों में से एनडीए को एक और यूपीए को 12 सीटें मिलेने का अनुमान है.

    राजधानी दिल्ली में AAP- जीरो, BJP को सभी सात सीटें

    राजधानी दिल्ली में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी के लिए बुरी खबर है. यहां लोकसभा की सात सीटों में से आप एक भी सीट पर जीतती हुई नहीं दिख रही है. यही स्थिति कांग्रेस की भी है. जबकि राज्य की सभी सात सीटें बीजेपी के खाते में जाती हुई दिखाई दे रही हैं.

    NDA में कौनसी-कौनसी पार्टियां हैं?

    सत्तारूढ़ एनडीए में बीजेपी, शिवसेना, अकाली दल, जद(यू), मिजो नेशनल फ्रंट, अपना दल, सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट, रामविलास पासवान की लोजपा, मेघालय की एनपीपी, पुदुचेरी की आईएनआरसी, नागालैंड की पीएमके, एआईएडीएमके और एनडीपीपी शामिल हैं.

    यूपीए में कौनसी-कौन सी पार्टियां हैं?

    यूपीए में कांग्रेस, राष्ट्रीय जनता दल, डीएमके, टीडीपी, शरद पवार की एनसीपी, जेडीएस, नेशनल कॉन्फ्रेंस, जेएमएम, आईयूएमएल, केरल कांग्रेस (मैनी) और आरएलएसपी शामिल हैं.

    महागठबंधन में कौनसी-कौनसी पार्टियां शामिल हैं?

    महागठबंधन में अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी, मायावती की बहुजन समाज पार्टी और अजीत सिंह की आरएलडी शामिल है.

    अन्य में में कौनसी-कौनसी पार्टियां हैं?

    टीएमसी, तेलंगाना राष्ट्र समिति, बीजू जनता दल, वाईएसआर कांग्रेस पार्टी, लेफ्ट फ्रंट,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *