एनसीसी स्थापना दिवस है आज

28 नवंबर का इतिहास

28 नवंबर के दिन देश विदेश में कई घटनायें घटी होंगी, कई महान लोगों ने इस दुनिया को अलविदा किया है वैसे ही कई महान व्‍यक्तियों ने जन्‍म लिया होंगा। अगर आपको आज के इतिहास बारे में यानी 28 नवंबर के इतिहास के बारे में जानना है तो आपका ज्ञान बढ़ाने के लिए हम आपके लिए लाये हैं 28 नवंबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ, 28 नवंबर को जन्मे व्यक्ति, एवं 28 नवंबर को हुए निधन के बारे में जानकारी।

28 November History

  • फर्डिनान्द मैगलन ने 1520 में प्रशांत महासागर को पार करने की शुरुआत की।
  • लंदन में द रॉयल सोसायटी का 1660 में गठन हुआ।
  • द टाइम्स ऑफ लंदन 1814 में पहली बार स्वचालित प्रिंट मशीन से छापा गया।
  • पनामा ने 1821 में स्पेन से आजाद होने की घोषणा की।
  • डच सेना ने 1854 में बोर्नियो में चीनी विद्रोह को दबाया।
  • ब्रिटेन का खोजी वर्ने कैमरून 1875 में पश्चिमी अफ्रीका पहुँचा।
  • न्यूजीलैंड में राष्ट्रीय चुनाव में 1893 में पहली बार महिलाओं ने मतदान किया।
  • इस्माइल कादरी ने 1912 में तुर्की से अल्बानिया के आजाद होने की घोषणा की।
  • अमेरिका में जन्मी लेडी ऐस्टोर 1919 में हाउस ऑफ कऑमर्स की प्रथम महिला सदस्य चुनी गई।
  • फ्रांस और सोवियत संघ ने 1932 में अनाक्रमण समझौते पर हस्ताक्षर किया।
  • चीन के प्रधानमंत्री चाऊ एन-लाई 1956 में भारत दौरे पर आये।
  • मोरीटानिया ने 1960 में औपचारिक रुप से अपनी स्वतंत्रता की घोषणा की।
  • डोमनिकन रिपब्लिक ने 1966 में संविधान अपनाया।
  • वेस्टइंडीज के महान गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने 1975 में आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट करियर का आगाज किया। इन्होंने 60 टेस्ट में 249 और 102 वनडे में 142 विकेट झटके।
  • चुनावों के उपरान्त जान मेजर 1990 में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बने।
  • कैप्टन इन्द्राणी सिंह 1996 में एयरबस ए-300 विमान को कमांड करने वाली पहली महिला बनीं।
  • प्रधानमंत्री आई के गुजराल ने 1997 में अपने पद से इस्तीफा दिया।
  • एशिया कप हॉकी का ख़िताब दक्षिण कोरिया ने 1999 में पाकिस्तान को हराकर जीता, भारत ने कांस्य पदक मलेशिया को हराकर जीता।
  • नेपाल ने 2001 में माओवादियों से निपटने हेतु भारत से दो हैलीकॉप्टर मांगे।
  • कनाडा ने 2002 में हरकत उज मुजाहिदीन और जैश-ए-मोहम्मद पर प्रतिबंध लगाया।
  • नेपाली सरकार और माओवादियों के मध्य हथियारों के मैनेजमेंट पर 2006 में संधि सम्पन्न।
  • दो एशियाई देशों के बीच मधुर होते रिश्तों के चलते 2007 में द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद पहली बार चीन के युद्धपोत जापान भेजे गए।
  • सीरिया की राजधानी दमिश्क में 2012 में हुए दो कार बम धमाकों में 54 मरे और 120 घायल हुये।

28 नवंबर को जन्मे व्यक्ति

  • प्रसिद्ध भारतीय चिकित्सक प्रमोद करण सेठी का जन्म 1927 में हुआ।
  • भारत के प्रसिद्ध साहित्यकार व उपन्यासकार अमर गोस्वामी का जन्म 1945 में हुआ।

28 नवंबर को हुए निधन

  • भारत के महान् विचारक, समाज सेवी तथा क्रान्तिकारी ज्योतिबा फुले का निधन 1890 में हुआ।
  • बास्केटबॉल के जनक जेम्स नैस्मिथ का निधन 1939 में हुआ।
  • महान भैतिकशास्त्री एनरिको फर्मी का निधन 1954  में हुआ।
  • बंगाल के प्रसिद्ध दृष्टिहीन गायक सी डे का निधन 1962 में हुआ।
  • हिन्दी के प्रसिद्ध नाटककार तथा सिनेमा कथा लेखक शंकर शेष का निधन 1981 में हुआ।
  • हिन्दी के प्रमुख उपन्यासकारों में से एक देवनारायण द्विवेदी का निधन 1989 में हुआ।
  • प्रसिद्ध मराठी फ़िल्म निर्माता-निर्देशक भालजी पेंढारकर का निधन 1994 में हुआ।

28 नवंबर के महत्त्वपूर्ण अवसर एवं उत्सव

  • एनसीसी स्थापना दिवस
    राष्ट्रीय कैडेट कोर
    सक्रिय अप्रैल १६, १९४८-वर्तमान
    भूमिका Student Uniformed Group
    विशालता 1,300,000+
    Headquarters DG NCC, आर.के.पुरम नई दिल्ली
    आदर्श वाक्य एकता और अनुशासन
    Unity and Discipline
    जालस्थल nccindia.nic.in
    सेनापति
    Director General लेफ्टनंट जनरल B S Sahrawat
    एन.सी.सी. विद्यार्थी

    राष्ट्रीय कैडेट कोर (अंग्रेज़ीNational Cadet Corps-NCCनई दिल्ली में अपने मुख्यालय के साथ भारतीय सैन्य कैडेट कोर है। यह स्वैच्छिक आधार पर स्कूल और कॉलेज के छात्रों के लिए खुला है। राष्ट्रीय कैडेट कोर अनुशासित और देशभक्त नागरिकों में देश के युवाओं को संवारने में लगे हुए सेनानौसेना और वायु सेना, जिसमें एक त्रिकोणीय सेवा संगठन है। भारत में राष्ट्रीय कैडेट कोर उच्च विद्यालयों, महाविद्यालयों और पूरे भारत में विश्वविद्यालयों से कैडेटों रंगरूटों जो एक स्वैच्छिक संगठन है। कैडेटों छोटे हथियारों और परेड में बुनियादी सैन्य प्रशिक्षण दिया जाता है। अधिकारियों और कैडेटों को सैन्य सेवा के लिए कोई दायित्व नहीं है लेकिन कोर में उपलब्धियों के आधार पर चयन के दौरान सामान्य उम्मीदवारों पर वरीयता दी जाती है।

    इतिहास

    राष्ट्रीय कैडेट कोर  परेड

    भारत में एनसीसी १९४८ की राष्ट्रीय कैडेट कोर अधिनियम के साथ बनाई गई थी। यह १५ जुलाई १९४८ में हुई थी। एनसीसी की उत्पत्ति सेना की कमियां पूरी करने के उद्देश्य के साथ, भारतीय रक्षा अधिनियम १९१७ के तहत बनाया गया था । १९२० में भारतीय प्रादेशिक अधिनियम पारित किया गया था, ‘ विश्वविद्यालय ‘ कोर विश्वविद्यालय प्रशिक्षण कोर (यूटीसी) द्वारा बदल दिया गया था। उद्देश्य यूटीसी की स्थिति को बढ़ाने और युवाओं के लिए इसे और अधिक आकर्षक बनाने के लिए था। यूटीसी अधिकारियों और कैडेटों को सेना की तरह कपड़े पहनना पडा था। यह सशस्त्र बलों के भारतीयकरण की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम था। राष्ट्रीय कैडेट कोर १९४२ में ब्रिटिश सरकार द्वारा स्थापित किया गया था, जो विश्वविद्यालय अधिकारी प्रशिक्षण कोर के एक उत्तराधिकारी के रूप में माना जा सकता है। यह (यु ओ टी सि) के रूप में नामकरण किया गया था। द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान, (यु ओ टी सि) ब्रिटिश द्वारा निर्धारित उम्मीदों पर कभी नहीं आया था। यह एक बेहतर तरीके से अधिक युवाओं को प्रशिक्षित कर सकता है, पंडित हेमवती कुंजरू की अध्यक्षता वाली समिति ने एक राष्ट्रीय स्तर पर स्कूलों और कॉलेजों में स्थापित करने के लिए एक कैडेट संगठन की सिफारिश की. राष्ट्रीय कैडेट कोर अधिनियम गवर्नर जनरल ने स्वीकार कर लिया और १५ जुलाई १९४८ को नेशनल कैडेट कोर अस्तित्व में आया था।

    राष्ट्रीय कैडेट कोर के यूनिफार्म में विद्यार्थी१९४८ में, लड़कियों डिवीजन स्कूल और कॉलेज जा रही लड़कियों को समान अवसर देने के लिए उठाया गया था। १९५२ मे एयर विंग जोड़ा गया था, १९५० में एक अंतर – सेवा छवि दिया गया था। उसी वर्ष, एनसीसी पाठ्यक्रम एनसीसी के विकास में गहरी रुचि ले लिया, जो स्वर्गीय पंडित जवाहर लाल नेहरू के कहने पर एनसीसी पाठ्यक्रम के एक भाग के रूप में सामुदायिक विकास, सामाजिक सेवा गतिविधियों में शामिल करने के लिए बढ़ाया गया था। राष्ट्र की आवश्यकता को पूरा करने के लिए, १९६२ भारत चीन युद्ध के बाद, एनसीसी प्रशिक्षण १९६३ में अनिवार्य किया गया था। १९६८ में, कोर फिर स्वैच्छिक बनाया गया था।

    १९६५ के भारत पाकिस्तान युद्ध और १९७१ के भारत पाकिस्तान युद्ध के दौरान एनसीसी कैडेटों सुरक्षा की दूसरी पंक्ति थे। वे सामने से हथियार और गोला बारूद की आपूर्ति, आयुध कारखानों की सहायता के लिए शिविर का आयोजन किया और भी दुश्मन पैराट्रूपर्स कब्जा करने के लिए गश्ती दल के रूप में इस्तेमाल किया गया। एन.सी.सी. कैडेटों ने भी सिविल डिफेंस के अधिकारियों के साथ हाथ में हाथ काम किया है और सक्रिय रूप से बचाव काम करता है और यातायात नियंत्रण में भाग लिया। वर्तमान समय मे इसकी 17 निर्देशक है। इसके मुख्य कैम्प इस प्रकार है:-

    1. Youth exchange program
    2. RDC (Republic Day Camp)
    3. NIC (National Integration Camp)
    4. ALC (Advance Leadership Camp)
    5. BLC (Basic Leadership Camp)
    6. AMC (Army Attachment Camp)
    7. CATC (Combined Annual Training Camp)
    8. CM (Camel Safari)

    राष्ट्रीय कैडेट कोर क्या है?

              राष्ट्रीय कैडेट कोर एक युवा विकास आंदोलन है। इसमें राष्ट्र-निर्माण के लिए बहुत संभावना हैं। एन सी सी कर्तव्य, प्रतिबद्धता, समर्पण, अनुशासन एवं नैतिक मूल्यों की भावना के साथ देश के युवाओं को अपने समग्र विकास के लिए अवसर प्रदान करता है ताकि वे योग्य नायक एवं उपयोगी नागरिक बनें। एन सी सी कैडेटों की विभिन्न प्रकार की गतिविधियों को उभारने का अवसर प्रदान करता है और सामाजिक सेवा, अनुशासन एवं एडवेंचर प्रशिक्षण पर विशेष जोर दिया जाता है। एन सी सी विद्यालयों एवं महाविद्यालयों के सभी नियमित छात्रों को स्वैच्छिक आधार पर उपलब्ध है। छात्रों पर सक्रिय सैनिक सेवा करने का कोई दायित्व नहीं है।

    2.       राष्ट्रीय कैडेट कोर की स्थापना कब हुई है?

              राष्ट्रीय कैडेट कोर अधिनियम XXXI 1948 के तहत राष्ट्रीय कैडेट कोर की स्थापना हुई है। (अप्रैल, 1948 में पारित, 16 जुलाई 1948 में स्थापित)

    3.       एन सी सी कार्यक्रम का स्वरुप क्या है, अनिवार्य है या स्वैच्छिक?

              स्वैच्छिक।

    4.       क्या एन सी सी कार्यक्रम शैक्षिक गतिविधि/सैनिक गतिविधि का भाग है?

              शैक्षिक गतिविधि।

    5.       एन सी सी का/के उद्देश्य क्या है?

              (क)    देश के युवाओं में चरित्र, सहचर्य, अनुशासन, नेतृत्व, धर्मनिरपेक्ष दृष्टिकोण, एडवेंचर की भावना एवं निस्वार्थ सेवा के आदर्श का विकास करना।

              (ख)    जीवन के हर क्षेत्र में नेतृत्व प्रदान करने एवं राष्ट्र की सेवा के लिए हमेशा उपलब्ध संगठित, प्रशिक्षित एवं प्रोत्साहित युवा मानव संसाधन तैयार करना।

              (ग)    सशस्त्र सेनाओं में अपना कैरियर शुरु करने के लिए युवाओं को प्रोत्साहित करने के लिए उचित परिवेश उपलब्ध कराना।

    6.       एन सी सी का आदर्श क्या है?

              एन सी सी का आदर्श वाक्य “एकता और अनुशासन” है।

    7.       एन सी सी का चिह्न/अधिचिह्न क्या है?

              यह “एन सी सी” अक्षरों से युक्त स्वर्णांकित एन सी सी क्रेस्ट है, जिस पर सात पृष्ठभूमि में लाल, नीला तथा हल्का नीला रंग है।

    8.       एन सी सी क्रेस्ट में लाल रंग किसका द्योतक है

              लाल रंग थल सेना का द्योतक है।

    9.       एन सी सी क्रेस्ट में गहरा नीला एवं हल्का नीला रंग किसका द्योतक है?

              वायुसेना

    10.    एन सी सी क्रेस्ट में कमल के फूल किसका द्योतक हैं?

              सत्रह कमल 17 राज्य निदेशालयों के द्योतक हैं।

    11.    एन सी सी दिवस कब मनाया जाता है?

              एन सी सी दिवस नवंबर के चौथे रविवार को मनाया जाता है।

    12.    राष्ट्रीय स्तर पर एन सी सी किस मंत्रालय के अधीन है?

              रक्षा मंत्रालय

    13.    सभी राज्यों में एन सी सी किस मंत्रालय के अधीन है?

              शिक्षा

    14.    एन सी सी के लिए वित्त/निधियों की व्यवस्था क्या है?

              केन्द्र एवं राज्य सरकारों द्वारा निधियों को बांटा जाता है।

    15.    रा.कै.को. महानिदेशालय क्या है?

              यह राष्ट्रीय स्तर का मुख्यालय है।

    16.    राष्ट्रीय कैडेट कोर महानिदेशालय का गठन क्या है?

              इसका अध्यक्ष महानिदेशक और यह ले. जनरल के रैंक का सैन्य अधिकारी होता है। महानिदेशक की सहायता दो अपर महानिदेशक (एडीजी), एक सेना के मेजर जनरल एवं दूसरा नौसेना के रियर एडमिरल या वायु सेना के उप वायुसेनाध्यक्ष है। महानिदेशक के अधीन तीनों सेनाओं- सेना,नौसेना एवं वायुसेना का स्टाफ़ है। ब्रिगेडियर या समकक्ष रैंक के पांच उप महानिदेशक है जिनमें तीन ब्रिगेडियर है और एक या तो कमोडोर (नौसेना) या एयर कमोडोर (वायुसेना) है और एक सिविलियन अधिकारी है।

    17.    राष्ट्रीय स्तर पर एन सी सी मुख्यालय कहां स्थित है?

              नई दिल्ली में।

    18.    एन सी सी निदेशालय क्या है?

              राज्य स्तर पर एन सी सी को 17 निदेशालयों में विभाजित किया गया है, जिनमें एक राज्य या राज्यों के समूह को निदेशालय के रुप में गठित किया जाता है। छोटे राज्य एवं संघ राज्य क्षेत्र बड़े राज्यों के निदेशालयों के साथ जोड़ दिये जाते हैं। प्रत्येक निदेशालयों को ब्रिगेडियर (मेजर जनरल के रैंक में पदोन्नति प्राप्त) या उसके समकक्ष अधिकारी जिन्हें अन्य दो सेनाओं से लिया जाता है के अधीन रखा जाता है।

    19.    एन सी सी ग्रुप क्या है?

            निदेशालयों को ग्रुप में उप-विभाजित किया जाता है,जो राज्य के आकार के अनुसार बदलता है । प्रत्येक ग्रुप कर्नल (ब्रिगेडियर के रैंक में पदोन्नति प्राप्त)के रैंक के समकक्ष अधिकारी की कमान के अधीन है । देश में कुल 95 ग्रुप मुख्यालय हैं।

    20.    एन सी सी ग्रुप की संगठनात्मक संरचना क्या है?

            ग्रुप में एन सी सी बटालियन, वायुसेना एवं नौसेना यूनिटें शामिल हैं।  ग्रुप कमांडर के अलावा प्रत्येक ग्रुप मुख्यालय में एक प्रशानिक अधिकारी एवं एक प्रशिक्षण अधिकारी है जिनके रैंक ले0 कर्नल या मेजर रैंक के होते हैं।

    21.    एन सी सी यूनिट क्या है और उसकी संगठनात्मक संरचना क्या है?

            ग्रुप को बटालियनों के रूप में उप-विभाजित किया गया है, प्रत्येक ग्रुप की कमान ले0 कर्नल या उसके समकक्ष अधिकारी द्वारा की जाती है जिन्हें अन्य दो सेनाओं से लिया जाता है। प्रत्येक बटालियन में अनेक जूनियर कमीशन प्राप्त अ‍फसर (जे सी ओ) एवं गैर कमीशन प्राप्त अफसर (एन सी ओ) हैं जिन्हें स्थाई अनुदेशक स्टाफ कहा जाता है वरिष्ठतम जे सी ओ सूबेदार मेजर रैंक के हैं।

    22.  एन सी सी में छात्र का तात्पर्य क्या है?

         एन सी सी में भर्ती छात्र को कैडेट कहा जाता है (अधिनियम xxxi की धारा 6 के संदर्भ में)

    23.  एन सी सी में वरिष्ठ प्रभाग (एस डी) किसे कहते हैं?

    एन सी सी का वह प्रभाग जिसमें महाविद्यालयों एवं बारहवीं तक के विद्यालयों  (xi एवं xii) के छात्र भर्ती किए जाते हैं उसे वरिष्ठ प्रभाग (एस डी) कहा जाता है ।

    24.  एन सी सी में वरिष्ठ स्कंध (एस डब्ल्यू) किसे कहा जाता है?

    एन सी सी का वह प्रभाग जिसमें महाविद्यालयों एवं बारहवीं तक के विद्यालयों (xi एवं xii) की छात्राओं की भर्ती की जाती है एवं उसे वरिष्ठ स्कंध (एस डब्ल्यू) कहा जाता है ।

    25.  एन सी सी में कनिष्ठ प्रभाग (जे डी) किसे कहा जाता है ?

    एन सी सी का वह प्रभाग जिसमें विद्यालयों से छात्रों (13 वर्ष या उससे अधिक आयु ) की भर्ती की जाती है उसे कनिष्ठ प्रभाग (जे डी) कहा जाता है ।

    26.  एन सी सी कम्पनी किसे कहा जाता है?

    विद्यालयों एवं बारहवीं तक के विद्यालयों की बुनियादी कार्यकारी उप यूनिट जिसमें एसडब्लू/एसडी कैडेट छात्र एवं छात्राएं भर्ती हो। यह अनिवार्य है कि विशेष कम्पनी के कैडेट उसी संस्था से होना चाहिए जिसमें उप-यूनिट है। तथापि, विशेष मामले के रुप मे कुछ संस्थाओं जहां अन्य संस्थाओं के छात्र जो एनसीसी में भर्ती नहीं हुए वो भी सम्मिलित हो सकते हैं के एनसीसी उप-यूनिटों को विशेष रुप से खुली रिक्तियां देने की प्रणाली का प्रावधान है।

    27.    एन सी सी ट्रूप किसे कहा जाता है?

              विद्यालयों में बुनियादी कार्यकारी उप-यूनिट जिसमें जे डब्लू/जे डी कैडेट भर्ती किये जाते है, ट्रूप कहलाते हैं।

    28.    एक संस्था को कितने एन सी सी यूनिटे आवंटित किये जा सकते हैं?

              कोई निर्धारित संख्या नहीं है।

    29. एन सी सी में कार्यरत अध्यापकों / प्रशिक्षकों (विद्यालय के स्तर पर) एवं प्राध्यापक / आचार्य /प्रशिक्षकों (महाविद्यालयों स्तर पर) को क्या कहा जाता है?

              उन्हें एसोसिएट एनसीसी अफसर (ए एन ओ) कहा जाता है।

    30.    किसी भी संस्था में एन सी सी गतिविधियों के आयोजन के लिए कौन जिम्मेदार है?

              ए एन ओ कैडेटों के नियंत्रण के लिए जिम्मेदार है। एन सी सी यूनिट द्वारा तैनात स्थाई अनुदेशक (पीआई) स्टाफ की सहायता से प्रशिक्षण की योजना एवं आयोजन के लिए जिम्मेवार है।

    31.    एन सी सी अफसर (ए एन ओ) महाविद्यालयों/विद्यालयों में एन सी सी का सबसे महत्वपूर्ण अधिकारी है। इस कार्यक्रम के कार्यान्वयन में प्रधानाध्यापक/प्राचार्य की क्या भूमिका है?

              चूंकि एन सी सी शैक्षिक कार्यक्रम का हिस्सा है, प्राथमिक जिम्मेदारी प्रधानाध्यापक/प्राचार्य की ही है। अपनी संस्था में उप-यूनिट की सभी गतिविधियों में गहरा संबंध होने से गतिविधियां अच्छी तरह से होंगी। परेड के आवधिक दौरे, एक महीने में एक निर्धारित दिवस को होते है। उप-यूनिट की औपचारिक जांच प्रशिक्षण शिविरों का दौरा जिनमें उनका /उनकी उप-यूनिट भाग ले रही हो और आदि काम करने से एन सी सी कार्यक्रम के उद्देश्य की पूर्ति में महत्वपूर्ण योगदान देंगे।

    32. क्या ए एन ओ को अभिमुखी प्रशिक्षण मिलता है जिससे कि वे अपनी एन सी सी जिम्मेवारियों को पूरा कर सकें?

              हां।

    33.    एन सी सी में भर्ती होने के लिए छात्र की आयु-सीमा क्या है?

              जे डब्लू/जे डी कैडेटों के लिए 13-18.5 वर्ष एवं एस डब्लू/एस डी कैडेटों के लिए 24 वर्ष तक की आयु।

    34.    एन सी सी में भर्ती होने के लिए छात्र के लिए कोई शारीरिक मानदंड है? अगर है तो क्या है?

              जी, हां। ये मानदंड एन सी सी नियमों के नियम 5 (डी) एवं 6 (डी) में दिए गए है।

    35.    क्या एन सी सी के नामांकन के लिए कोई शुल्क है?

              कोई शुल्क नहीं है। वार्षिक रेजिमेंटल अंशदान एवं कैडेट कल्याण सोसायटी अंशदान के रुप में टोकन राशि का भुगतान प्रत्येक कैडेट द्वारा किया जाना है।

    36.    एन सी सी कैडेट के रुप में एन सी सी कार्यक्रम की अवधि क्या है?

              जे डब्लू/जे डी कैडेट: दो वर्ष

              एस डब्लू/एस डी : दो वर्ष एक साल विस्तार के साथ।

    37.    एन सी सी की वर्दी क्या है?

              सेना कैडेट वर्दी पहनते हैं। नौसेना कैडेट नौसेना की सफेद वर्दी पहनते हैं। वायुसेना कैडेट वायुसेना की तरह नीले रंग की वर्दी पहनते हैं।

    38.    क्या एन सी सी वर्दी पहनना अनिवार्य है?

              जी, हां।

    39.    जे डब्लू/जे डी कैडेट के रुप में मुझे कौन सा एन सी सी सर्टिफिकेट मिलेगा?

              ‘ए’ सर्टिफिकेट।

    40.    एस डब्लू/एस डी कैडेट के रुप में मुझे कौन सा एन सी सी सर्टिफिकेट मिलेगा?

              ‘बी’  एवं ‘सी’ सर्टिफिकेट।

    41.   क्या रा.कै. को.शिविर में भाग लेना जरूरी है?
    हां

    42.    रा. कै. को. में कितने प्रकार के शिविर होते है ?

    (क)  वार्षिक प्रशिक्षण शिविर (ए टी सी)
    (ख)  केंद्रीय स्तर पर आयोजित शिविर (सी ओ सी)
    (i) नेतृत्व शिविर
    (ii)वायु सैनिक शिविर
    (iii)नौसैनिक शिविर
    (iv)पर्वतारोहण शिविर
    (v)राष्ट्रीय एकता शिविर (एन आई सी)
    (vi)थल सैनिक शिविर (टी एस सी)

    43.   रा. कै. को. में किस प्रकार की गतिविधियाँ की जाती हैं?
    रा .कै .को में होने वाली गतिविधियों की निम्नलिखित श्रेणियां हैं:-

    (क)    सांस्थानिक प्रशिक्षण
    (ख)    शिविर प्रशिक्षण
    (ग)    अटैचमेंट प्रशिक्षण
    (घ)    वायु स्कंध प्रशिक्षण
    (ङ)    नौसैना स्कंध प्रशिक्षण
    (च)    सामाजिक सेवा और सामुदायिक विकास गतिविधियां ।
    (छ)    युवा आदान –प्रदान कार्यक्रम
    (ज)    गणतंत्र दिवस शिविर का आयोजन
    (झ)    ए एन ओ के लिए अ‍फसर प्रशिक्षण् अकादमी,काम्पटी और ग्वालियर में पाठयक्रमों का आयोजन ।
    (ञ)    कैरियर काउंसलिंग और व्यक्तित्व विकास
    (ट)    घुडसवारी यूनिट प्रशिक्षण
    (ठ)    सर्टिफिकेट परीक्षाओं का आयोजन
    (ड)    एडवेंचर (साहसिक) गतिविधयों का आयोजन

    44.   क्या मुझे किए गए किन्ही विशेष कार्यों के लिए कोई अवार्ड मिल सकता है?
    हां, सराहनीय और विशेष कार्य निष्पादन की हर स्तर पर (सब यूनिट/यूनिट/ग्रुप यूनिट/निदेशालय/रा.कै.को.महानिदेशालय मु.) उचित मान्यता प्रदान की जाती है तथा रा.कै.को. में उचित पुरस्कार/अवॉर्ड दिया जाता है। विस्तृत जानकारी के लिए अपनी यूनिट के कमान अफ़सर/कमान अधिकारी से संपर्क करें।

    45.  मुझे देश के राज्यों में अथवा विदेश यात्रा करने का अवसर मिल सकता है और कैसे?
    हां। केंद्रीय स्तर पर आयोजित शिविरों में/युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम में इसके लिए चयन होने पर ।

    46.   मेरे व्यक्तित्व विकास में राष्ट्रीय कैडेट कोर कैसे उपयोगी होगा?
    कृपया प्रायः पूछे जाने वाले प्रश्न 5 में एन सी सी के उद्देश्यों को देखें।

    47.   मैं राजपथ पर नई दिल्ली में होने वाली गणतंत्र दिवस परेड में कैसे भाग ले सकता हूं?
    गणतंत्र दिवस शिविर, दिल्ली निदेशालय के कंटीजेंट कमांडर के सदस्य के रूप में चयनित होने पर राजपथ, नई दिल्ली में आयोजित गणतंत्र दिवस परेड में आपका चयन किया जा सकता है।

    48.   क्या एन सी सी राष्ट्रीय एकता शिविर आयोजित करता है?
    जी हां।

    49.   क्या एन सी सी में अन्तर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय दिवस सप्ताह मनाये जाते हैं?
    जी हां।

    50.   क्या मुझे एन सी सी कैडेट के रूप में चुनाव अभियान रैली में भाग लेना पड़ेगा?
    नहीं।

    51.   क्या मुझे टीकाकरण कार्यक्रमों में सूईं लगाना पड़ेगा?
    नहीं।

    52.   क्या मैं वृक्षारोपण अभियान में भाग ले सकता हूं, एक वर्ष में मुझे कितने पौधे लगाने होंगे और क्या मुझे इस कार्य के लिए कोई सर्टिफ़िकेट मिलेगा?
    हां। इसकी कोई निर्धारित संख्या नहीं है। इसके लिए एक सर्टिफ़िकेट दिया जाता है।

    53.   क्या मैं रक्तदान शिविरों में रक्तदान कर सकता हूं?
    हां।

    54.  क्या एन सी सी कैडेटों को रक्तदान करना अनिवार्य है?
    नहीं।

    55.   क्या एन सी सी कैडेटों को अंग दान करना अनिवार्य है?
    नहीं।

    56.   क्या एन सी सी कैडेटों को सेना, वायुसेना एवं नौसेना प्रशिक्षण दिया जाता है? यदि हां, तो किस उद्देश्य से ?
    हां। यह कैडेटों को रेजिमेंट जीवन पद्धति से परिचित कराता है जो अनुशासन, कर्त्तव्य बोध, समयबद्धता, सुव्यवस्था, चुस्ती, वैद्य अधिकार के लिए सम्मान, अच्छा एवं सही कार्य करने की भावना एवं आत्मविश्वास जैसे मूल्यों को समाहित करने के लिए अनिवार्य है।

    57.   यदि मैं एन सी सी में भर्ती होता हूं तो क्या मुझे सेना बलों में भर्ती होना अनिवार्य है?
    नहीं।

    58.   देश भर में एन सी सी कितने राज्य/संघ राज्य क्षेत्रों में मौजूद है?
    सभी राज्य एवं संघ राज्य क्षेत्रों में।

    59.   क्या यह योजना केवल सरकारी विद्यालयों एवं महाविद्यालयों के लिए ही लागू है?
    नहीं। तथापि, व्यय से संबंधित वित्तीय प्रबंध संस्थाओं के आधार पर परिवर्तित हो जाता है।

    59.   एन सी सी में ए एन ओ को किस प्रकार का पारिश्रमिक दिया जाता है?
    निम्नलिखित पारिश्रमिक दिए जाते हैः-

    (क)    मासिक मानदेय
    (ख)    पोशाक भत्ता
    (ग)    पोशाक रखरखाव भत्ता
    (घ)    कमीशन पूर्व एवं रिफ्रेशर पाठ्यक्रमों के लिए यात्रा एवं भोजन व्यय
    (च)    शिविरों के दौरान रैंक वेतन
    (छ)    शिविरों में जाने और शिविरों से वापिस आने के लिए यात्रा भत्ता एवं महंगाई भत्ता।

    61.   क्या एन सी सी यूनिटों का अन्य स्वैच्छिक संगठनों के साथ कोई संबंध है?
    हां। सामुदायिक विकास एवं सामाजिक सेवा गतिविधियों के कार्यान्व्यन में।

    62.   क्या एन सी सी प्राकृतिक आपदाओं एवं विपदाओं में राहत कार्यों में लगाया जाता है?
    कैडेटों के अभिभावकों की अनुमति से।

    63.   एन सी सी में काम करते हुए क्या मुझे किसी लोकप्रिय/प्रभावशाली व्यक्ति से मिलने का मौका मिल सकता है?
    हां।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *